पांच महीने में 10 फीसदी घट गया अध्यापक पात्रता परीक्षा (टेट) का परिणाम

134

हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड की ओर से घोषित अध्यापक पात्रता परीक्षा (टेट) का परिणाम पांच माह पहले निकाले गए रिजल्ट की अपेक्षा 10 फीसदी कम रहा है।

सितंबर 2022 में आठ विषयों की अध्यापक पात्रता परीक्षा का परिणाम 25.95 फीसदी रहा था। इस बार घोषित सात विषयों का परिणाम 15.15 पर अटक गया है।

सबसे कम परिणाम टीजीटी आर्ट्स में दर्ज किया गया है। भाषा अध्यापक का परिणाम भी संतोषजनक नहीं रहा है। पंजाबी विषय की अध्यापक पात्रता परीक्षा का परिणाम इस बार 9.21 फीसदी अधिक रहा है।

हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड ने दिसंबर में सात विषयों की अध्यापक पात्रता परीक्षा (टेट) ली थी। इस बार यह परिणाम 15.15 फीसदी रहा है।

सितंबर 2022 में स्कूल शिक्षा बोर्ड की ओर से घोषित टेट का परिणाम 25.85 फीसदी रहा था। इस बार घोषित परिणाम सितंबर 2022 की अपेक्षा 10 फीसदी से कम है।

सितंबर 2022 में घोषित परिणाम के दौरान 48,345 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था। इनमें 44,142 अभ्यर्थी अपीयर हुए थे, जबकि 4203 अभ्यर्थियों ने परीक्षा नहीं दी थी।

इस दौरान 11,415 अभ्यर्थियों को बोर्ड ने उत्तीर्ण घोषित किया था, जबकि 32,727 अभ्यर्थियों का परिणाम परिणाम फेल रहा था। इस बार सात विषयों की परीक्षा के लिए कुल 38,140 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था।

34,501 अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी थी, जबकि 3,639 अभ्यर्थी अनुपस्थित रहे थे। शिक्षा बोर्ड की ओर से घोषित परिणाम में 5,229 अभ्यर्थियों को पास घोषित किया गया है। परीक्षा में बैठे 29,272 अभ्यर्थी फेल घोषित हुए हैं।

कब कितना फीसदी रहा परिणाम

विषय                   जनवरी, 2023        सितंबर, 2022
भाषा अध्यापक            21.26                  35.19
पंजाबी                     16.13                  6.92
शास्त्री                      28.74                 31.22
टीजीटी आर्ट्स              7.96                  26.50
टीजीटी मेडिकल           24.22                 18.01
टीजीटी नॉन मेडिकल      16.45                10.00
उर्दू                            0                    14.29

Leave a Reply