हिमाचल में बर्फ़बारी से जनजीवन हुआ प्रभावित

129

ताज़ा बर्फबारी से हिमाचल प्रदेश में तीन नेशनल हाई-वे समेत 200 सडक़ें बंद हो गई हैं। वहीं, 487 बिजली ट्रांसफार्मर ठप हैं। कई क्षेत्रों में अंधेरा छा गया है। आपदा प्रबंधन विभाग की तरफ से जो एनएच बंद हुए हैं उनमें लाहुल-स्पीति में एनएच-5 को ग्राम्पू से लोसर तक के हिस्से को बंद रखने का फैसला किया गया है।

 

 

जबकि नेशनल हाई-वे-3 दारचा से सरचू तक बंद किया गया है। इन दोनों नेशनल हाई-वे पर आगामी तीन महीनों तक कोई आवाजाही नहीं होगी। इसके अलावा भारी बर्फबारी को देखते हुए नेशनल हाईवे-3 को रोहतांग पास के आगे सिर्फ फोर-बाई-फोर वाहनों को ही जाने की इजाजत मिलेगी।

प्रदेश भर में पहली बर्फबारी के बाद करीब 200 सड़कें और तीन एनएच बंद हो गए हैं, जबकि 487 ट्रांसफार्मर भी बर्फबारी की वजह से बंद हुए हैं।

ट्रांसफार्मर बने शोपीस

मंडी जिला में 180 ट्रांसफार्मर बंद हो गए हैं। इनमें गोहर में 111, मंडी में 36 और बालीचौकी में 33 ट्रांसफार्मर हैं। किन्नौर में 145, लाहुल-स्पीति में 100, चंबा में 62 ट्रांसफार्मर बंद हुए हैं।

इनमें चंबा में दो, तीसा में 31 और भटियात में 29 ट्रांसफार्मर हैं। इसके अलावा एक पेयजल योजना भी बर्फबारी की वजह से प्रभावित हुई है।

कहां, कितनी सडक़ें ठप

चंबा जिला में पांच, कांगड़ा में दो, कुल्लू में एक सडक़ और एक एनएच, उदयपुर में 48, लाहुल में 86 और स्पीति में 43, मंडी में चार व शिमला में 11 सडक़ें बंद हुई हैं।

अटल टनल के साउथ पोर्टल पर डेढ़ फुट बर्फ

जिला संवाददाता—केलांग
गुरुवार रात हुई ताजा बर्फबारी से अटल टनल होकर मनाली-केलांग सडक़ फिर बंद हो गई है। बीआरओ ने बर्फ हटा कर बुधवार को सडक़ बहाल किया था, लेकिन 24 घंटे के भीतर अटल टनल से वाहनों की आवजाही फिर से बंद हो गई है।

जानकारी के मुताबिक अटल टनल के साउथ पोर्टल धूंदी में गुरुवार रात को लगभग डेढ़ फुट तक ताजा बर्फ गिरी है, जिस कारण धूंदी से टनल के नार्थ पोर्टल के बीच कई जगह हिमखंड गिरने का खतरा है। वहीं, रोहतांग, कुंजुम, कुगति और बारालाचा दर्रा में भी डेढ़ से तीन फुट तक बर्फबारी होने का अनुमान है।

एसपी लाहुल स्पीति मानव वर्मा ने बताया कि ताजा हिमपात के बाद अटल टनल से वाहनों की आवाजाही बंद हो गई है।

भरमौर में बिछी बर्फ की सफेद चादर
भरमौर। जनजातीय उपमंडल भरमौर में मौसम के बिगड़े मिजाज के बीच ऊंचाई पर बसे गांवों में आधा फुट ताजा हिमपात हुआ है, जबकि निचले इलाकों में रुक-रुक कर बर्फबारी हो रही है।

बर्फीली हवाओं से शीतलहर का प्रकोप बढ़ गया है। जनजातीय उपमंडल मुख्यालय भरमौर में दो से अढ़ाई इंच ताजा हिमपात दर्ज हुआ है। उधर, लोक निर्माण विभाग के भरमौर स्थित सहायक अभियंता विशाल चौधरी ने कहा कि क्षेत्र की सभी सडक़ों पर यातायात सुचारू रूप से चल रहा है।

ग्रीमा रोड पर अधिक बर्फ होने के चलते दोपहर बाद इसे अढ़ाई बजे के आसपास यातायात के लिए बहाल कर दिया गया। बडग्रां रोड को जेसीबी की सहायता से वाहनों के लिए खोल दिया जाएगा।

Leave a Reply