नाबार्ड में फंसे 280 करोड़ के 39 प्रोजेक्ट, जून में मंजूरी की आस

85

शिमला: राज्य सरकार को नाबार्ड में बड़े प्रोजेक्ट की मंजूरी का इंतजार है। 280 करोड़ के प्रोजेक्ट अप्रैल माह से मंजूरी को भेजे हैं। इन प्रोजेक्ट पर मुहर लगने के बाद निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।

अप्रैल महीने के बाद प्रस्तावित इन प्रोजेक्ट में 39 डीपीआर तैयार की गई हैं। साल की पहली तिमाही में नाबार्ड के हिस्से इन प्रोजेक्ट के आने की संभावना है।

लोक निर्माण विभाग ने इस बार मौजूदा वित्तीय वर्ष में 120 से ज्यादा प्रोजेक्ट मंजूर करवाने का लक्ष्य तय किया है। जो बीते वित्तीय वर्ष से करीब दस फीसदी से ज्यादा होगा।

39 projects worth 280 crore stuck in NABARD

गौरतलब है कि बीते वित्तीय वर्ष में हिमाचल के हिस्से 106 प्रोजेक्ट आए थे। इन प्रोजेक्ट के निर्माण के एवज में 559.35 करोड़ रुपए की धनराशि राज्य को मिली थी। इनमें से कई प्रोजेक्ट का काम शुरू हो चुका है।

खास बात यह है कि मौजूदा वित्तीय वर्ष के दो महीने गुजरने को हैं। लेकिन इन दो महीनों में अभी तक इस साल सडक़ निर्माण के किसी भी प्रोजेक्ट को मंजूरी नहीं मिल पाई है।

लोक निर्माण विभाग अप्रैल महीने से लगातार प्रोजेक्ट भेज रहा है और अभी तक 39 डीपीआर भेजी जा चुकी हैं। जून महीने में इन सभी प्रोजेक्ट को मंजूरी मिलने की संभावना है।

वहीं लोक निर्माण विभाग के प्रमुख अभियंता अजय गुप्ता का कहना है कि नाबार्ड में नियमित रूप से प्रोजेक्ट मंजूरी के लिए भेजे जा रहे हैं। उम्मीद है कि जून महीने में वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही के प्रोजेक्ट को मंजूरी मिल जाएगी।

Leave a Reply