बिलिंग में अप्रैल माह में होगा एक्यूरेसी प्री-वर्ल्ड कप, कला व कौशल दिखाएंगे विदेशी पायलट

169

बीड़-बिलिंग :  पैराग्लाइडिंग के लिए दुनिया के नंबर 2 स्थानों में शुमार बीड़ बिलिंग घाटी में अप्रैल माह में प्रस्तावित प्री-वर्ल्ड कप से पर्यटन कारोबारी चहक उठे हैं। लंबे अंतराल के बाद होने जा रहे एक्यूरेसी प्री-वर्ल्ड कप में भारतीय पैराग्लाइडिंग पायलटों के अलावा कई विदेशी पायलट अपने कौशल व कला का जौहर दिखाने को बेताब हैं।

जानकारी के मुताबिक अप्रैल माह में होने वाले इस कप में लगभग 5 देशों के 72 विदेशी पायलटों ने अपनी रजिस्ट्रेशन दर्ज करवाई है।

ये सभी पायलट स्पेन, रशिया, नीदरलैंड, श्रीलंका व नेपाल से संबंधित हैं। इनमें 8 महिला पायलट भी शामिल हैं। गौरतलब है कि बीड़-बिलिंग घाटी में जब से पैराग्लाइडिंग अस्तित्व में आया है, तब से कई विदेशी पायलटों ने बिलिंग को पैराग्लाइडिंग के स्वर्ग का दर्जा दिया है। यहां पायलटों को प्रचुर मात्रा में उड़ान के लिए थर्मल मिलता है।

बिलिंग पैराग्लाइडिंग एसोसिएशन के निदेशक अनुराग शर्मा ने कहा कि एक्यूरेसी प्री-वर्ल्ड कप का आयोजन अब तक देश में संभव नहीं हो सका है और बीड़ में ही क्रॉस कंट्री प्री-वर्ल्ड कप व वर्ल्ड कप का आयोजन हो सका है।

ऐसे में एक्यूरेसी प्री-वर्ल्ड कप देश में होने वाला पहला प्री-वर्ल्ड कप होगा। इसे लेकर बिलिंग पैराग्लाइडिंग एसोसिएशन ने तैयारियां शुरू कर दी हैं।

प्रतियोगिता एफएआई व पीडब्ल्यूसीए के निर्देशों के तहत होगी।  बीड़-बिलिंग घाटी में प्री-वर्ल्ड कप को लेकर पायलटों सहित लोगों में रोमांच पैदा हुआ है।

कप का आयोजन होने का लाभ उन सैंकड़ों होटल कारोबारियों व होम स्टे संचालकों को मिलेगा, जोकि कोरोना काल के बाद से आर्थिक मंदी से जूझ रहे थे।

Leave a Reply