250 करोड़ से बनेंगी 100 किलोमीटर सडक़ें

216

लोक निर्माण विभाग हमीरपुर के तहत 100 किलोमीटर सडक़ों के निर्माण व सुदृढ़ीकरण पर 250 करोड़ की राशि खर्च होगी। इन सडक़ों के निर्माण व सुदृढ़ीकरण के लिए डीपीआर बनाकर भारत सरकार को भेज दी गई है।

प्रधानमंत्री ग्रामीण सडक़ योजना के तहत इन सडक़ों पर करोड़ों की राशि खर्च की जाएगी। मंजूरी मिलने के बाद विभाग सडक़ मार्गों के निर्माण तथा सुदृढ़ीकरण का कार्य शुरू कर देगा।

यही नहीं सेंट्रल रोड़ फंड के तहत रंगस से बड़सर तक सडक़ मार्ग निर्माण की डीपीआर भी बनाने की तैयारी हो गई है। यह सडक़ रंगस से बड़सर तथा बड़सर से बागचाल बृज तक बनेगी।

यह मार्ग झंडूता में फोरनेल को टच करेगा। लगभग 72 किलोमीटर इस सडक़ मार्ग के निर्माण की प्रक्रिया की औपचारिकताएं शुरू कर दी गई हैं। इस 72 किलोमीटर सडक़ मार्ग की डीपीआर तैयार की जा चुकी है।

Public Works Department,Gramin Sadak Yojana,Pradhan Mantri Gramin Sadak Yojana

डीपीआर तैयार करने के बाद आगामी प्रक्रिया को पूर्ण किया जा रहा है। सरकार से अनुमति मिलने के उपरांत इस मार्ग पर 300 करोड़ की राशि व्यय होगा।

जाहिर है कि मुख्यमंत्री का गृह जिला होने के कारण रंगस से बड़सर तथा बड़सर से बागचाल बृज तक सडक़ मार्ग निर्माण करने के निर्देश हुए हैं। इस मार्ग का निर्माण सेंट्रल रोड फंड से किया जाएगा।

यह मार्ग लगभग 72 किलोमीटर होगा तथा इसके ऊपर 300 करोड़ की राशि व्यय की जाएगी। कुल मिलाकर करोड़ों रुपए से हमीरपुर में सडक़ों का जाल बिछाया जाएगा।

करोड़ों की राशि सडक़ मार्गों पर व्यय होने से जहां सडक़ मार्गों की संख्या बढ़ेगी, वहीं आवागमन की बेहतर सुविधा मिलेगी। मुख्यमंत्री का गृह जिला होने के चलते यहां सडक़ों पर करोड़ों की राशि खर्च करने की योजना तैयार हो गई है।

विभाग की माने तो योजनाबद्ध तरीके से सडक़ मार्गों की डीपीआर तैयार की जा चुकी है। निर्देशानुसार चरणबद्ध तरीके से कार्य शुरू कर दिया जाएगा। वहीं धनेटा से बंगाणा के लिए बनाई जाने वाली टनल की प्रोपोजल भी सरकार को भेजी गई है।

प्र्रोपोजल को अनुमति मिलने के बाद यहां से टनल का निर्माण होगा। इस टनल निर्माण पर भी लगभग 300 करोड़ की राशि व्यय होने का अनुमान है। लोक निर्माण विभाग धनेटा से बंगाणा के लिए टनल की योजना पूर्व से ही प्रस्तावित है।

Leave a Reply