हेलिटैक्सी: मणिमहेश से गौरीकुंड का किराया 4498 बढ़ा, अब 7398 रुपए में उप-डाउन

64

प्रसिद्ध मणिमहेश यात्रा में भरमौर से गौरीकुंड के लिए हेलिटैक्सी सेवा के लिए 7398 रुपए आने-जाने के लिए देने होंगे। हेलिटैक्सी सेवा का एक तरफ का किराया 3699 रुपए होगा।

बढ़ौतरी की वजह कंपनी प्रबंधन तेल महंगा होना और अन्य खर्चे बता रहे हैं। बीते सोमवार को अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी के कार्यालय में मणिमहेश यात्रा को लेकर हेली टैक्सी के लिए निविदाएं खोली गईं।

इसमें हिमालयन हेली सर्विस और थांबे एविएशन सर्विस कंपनी को हेली टैक्सी सेवा की मंजूरी प्रदान की गई। पवित्र मणिमहेश यात्रा 19 अगस्त से 2 सितंबर तक चलेगी।

मणिमहेश न्यास के सचिव एवं उपमंडल अधिकारी असीम सूद ने बताया कि दोनों कंपनियों को तीन हेली टैक्सी उड़ाने की अनुमति दी गई है। साथ ही यह उड़ानें भरमौर हेलीपैड से गौरीकुंड के लिए होंगी। यह अनुमति मणिमहेश यात्रा शुरू होने से करीब एक सप्ताह पहले और यात्रा के समापन तक रहेगी।

बीते करीब दो दशक पहले मणिमहेश के लिए हेली टैक्सी सेवा शुरू हुई थी। तब दोनों तरफ का किराया 9000 के करीब था। 2017 में दोनों तरफ का किराया घटाकर 2900 रुपये किया गया। उस दौरान सबसे अधिक संख्या में शिव भक्तों ने हेली टैक्सी सेवा का लाभ उठाया था। उसके बाद साल दर साल इस किराये में बढ़ोतरी हो रही है।

तय शर्तों के मुताबिक हवाई कंपनियों को 12 अगस्त से दो सिंतबर तक यात्रा में सेवाएं प्रदान करनी होगी। खबर की पुष्टि मणिमहेश न्यास के सदस्य सचिव एवं एसडीएम भरमौर आसीम सूद ने की है।

ग़ौरतलब है कि मणिमहेश यात्रा में हेलिटैक्सी सेवा के लिए न्यास की ओर से टेंडर प्रक्रिया आयोजित की गई थी। हालांकि पूर्व में 18 जुलाई को टेंडर खुलने थे, लेकिन इस अवधि तक किसी भी कंपनी ने हेलिटैक्सी सेवा के लिए आवेदन नहीं किया था। लिहाजा प्रशासन की ओर से टेंडर भरने की अवधि बढ़ाकर 25 जुलाई तक कर दी थी।

लिहाजा इस समयावधि के बीच दो कंपनियों ने यात्रा में हेलिटैक्सी सेवा प्रदान करने के लिए आवेदन किया था। इस प्रक्रिया के पूरी होने के बाद न्यास एवं प्रशासन की ओर से मंगलवार को भरमौर से गौरीकुंड के लिए हेलिटैक्सी सेवा का आने-जाने का किराया निर्धारित कर दिया है।

इन्हें भी पढ़ें:-

Leave a Reply