पेंशन से वंचित रहे कर्मियों के लिए ढूँढा जाएगा हल

96

काँगड़ा : 72 लाख आबादी वाले प्रदेश में पूर्व कर्मचारियों की संख्या सात लाख के करीब है। इस तरह पूर्व पर कर्मचारियों पर आधारित परिवारों के आधार पर कुल जनसंख्या का एक तिहाई भाग पूर्व कर्मचारियों के प्रभाव में है, जो सत्ता का संतुलन बनाने तथा बिगाड़ने में एक अहम भूमिका निभा सकता है। ये शब्द भारतीय राज्य पेंशनर्ज महासंघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष घनश्याम शर्मा ने बुधवार को नगरोटा बगवां में  कहे।

अगले महीने होगी बैठक

उन्होंने बताया कि अगले माह दिल्ली में वित्त तथा क्रमिक विभाग के साथ महासंघ की प्रस्तावित बैठक में नई पेंशन स्कीम चर्चा होगी तथा पेंशन लाभ से वंचित कर्मचारियों की समस्या का हल ढूंढा जाएगा। उन्होंने कर्मचारी व पूर्व कर्मचारी कल्याण बोर्ड के तत्काल गठन, पूर्व कर्मचारियों को 65, 70, 75 वर्ष की आयु उपरांत क्रमशः 5, 10 व 15 फीसदी को मूल वेतन में समाहित करने के साथ कैशलेस स्वास्थ्य सुविधा प्रावधान को अपनी मुख्य मांगों में शुमार बताया। उन्होंने सरकार से मांग की कि कर्मचारियों के भविष्य को सुरक्षित करने हेतु यूनिफार्म पॉलिसी बनाई जाए, जिसमें कारपोरेट भी शामिल हों।

बनी कार्यकारिणी

अगले तीन वर्षों के लिए महासंघ की राज्य कार्यकारिणी का भी गठन किया गया तथा कई सदस्यों को भारतीय राज्य पेंशनर्स महासंघ की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में भी नामजद किया गया। प्रदेशाध्यक्ष ब्रह्मानंद ने बताया कि डा. डीके सोनी को वरिष्ठ उपाध्यक्ष, अर्की से इंद्रपाल महामंत्री, हमीरपुर से बलबीर ठाकुर उपाध्यक्ष, कांगड़ा से किशोरी लाल कोषाध्यक्ष, नगरोटा बगवां से बलरामपुरी मुख्य सलाहकार, मंडी से प्रभु राम शर्मा, जोगिंदरनगर से भूप सिंह ठाकुर, सोलन से बृज लाल, मदन लाल शर्मा, राजमल, एनडी चौधरी, आरके धीमान, एसएस मडोत्रा, संसार चंदेल, संतोष शर्मा, हंसराज शर्मा, शिवा कुमार डोगरा, निर्मल धीमान, विजय कुमार शर्मा,  मदनलाल शर्मा,  जग्गू राम चौधरी, आरके वर्मा, सतीश शर्मा, अमर सिंह, सतीश शर्मा, कमलेश खत्री, विनोद शर्मा, जगदीश शर्मा, अश्वनी कौल, सुरेंद्र मेहता, उत्तम वालिया, रामस्वरूप, हरवंश कालिया, संतोष कुमार शर्मा, सुरेंद्र शर्मा, अशोक शर्मा, रमेश कौंडल तथा कुलवंत सिपहिया राज्य कार्यकारिणी के नए सदस्य होंगे। इसी तरह पालमपुर से घनश्याम शर्मा, नगरोटा बगवां से ब्रह्मानंद, धर्मशाला से केसी कंवर, नाहन से देव शर्मा, सिराज मंडी से गोपाल वर्मा, पालमपुर से प्रेम व्यास, नगरोटा बगवां से सुभाष चंद, हमीरपुर से पुरुषोत्तम ठाकुर, पालमपुर से डा. एचसी नूर,  कुल्लू से टीडी ठाकुर,  बिलासपुर से राम सिंह, शिमला से सीताराम चंदेल, पालमपुर से अमरचंद मेहता, सुलाह से कृपाल सिंह, चंबा से सतपाल ठाकुर तथा धर्मशाला से प्रकाश चौधरी को राज्य पेंशनर्स महासंघ की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के लिए मनोनीत किया गया है।

Leave a Reply