ठियोग के मनलोग मेें 12 कमरे राख, चार परिवार बेघर

ठियोग : ठियोग की क्लींड़ पंचायत के मनलोग गांव में सोमवार दोपहर को हुए एक भीषण अग्निकांड में 12 कमरे राख हो गए और चार परिवार बेघर हो गए। आग लगने के कारणों का फिलहाल पता नहीं चल पाया है। शार्ट सर्किट इसका एक प्रमुख कारण माना जा रहा है।

जान -माल का नुक्सान नहीं

किसी तरह के जानी नुकसान की कोई सूचना नहीं है। इस हादसे में करीब 80 लाख का नुकसान होने का अनुमान है। जानकारी के अनुसार यह लकड़ी से बना तीन मंजिला मकान था। कुल चार परिवारों के घर  राख हुए हैं। इनमें शिव राम, रमेश, किशोरी और लायक राम शामिल हैं, जबकि रामानंद के मकान को आंशिक नुकसान हुआ है।

गाँव वालों ने पाया आग पर काबू

जब तक फायर ब्रिगेड की गाड़ी पहुंच पाती, तब तक गांववालों ने बड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया लिया था। प्रभावित परिवार वाले पहने हुए कपड़ों के सिवा कुछ भी नहीं बचा सके। प्रभावित परिवारों का रो-रोकर बुरा हाल था। खासकर छोटे बच्चे अपने आशियाने को जलता देख कर बिलख रहे थे।

एसडीएम पहुंचे मौके पर

घटना की सूचना मिलते ही एसडीएम ठियोग कृष्ण कुमार शर्मा और तहसीलदार कोटखाई रवीश चंदेल मौके पर पहुंचे। प्रत्येक प्रभावित परिवार को 10-10 हजार की आर्थिक मदद दी गई है। इसके साथ ही राशन, तिरपाल, बिस्तर आदि की मदद भी की गई। यह ठियोग का दूरदराज का गांव है और सेब बाहुल्य क्षेत्र है।

Comments

comments

Leave a Reply