शिकारी देवी और कमरुनाग में फिर से हुआ भारी हिमपात

202

मंडी  : मौसम ने एक बार फिर से करवट बदलते ही मार्च के दूसरे सप्ताह में पहाड़ों की चोटियाँ बर्फ से सराबोर कर दी हैं जबकि निचले इलाकों में रुक-रुक कर बारिश का दौर ज़ारी है. शिकारी देवी और कमरुनाग में फिर से भारी हिमपात होने से शीतलहर बढ़ गई है. उधर बेमौसमी बर्फबारी से बागवान और किसान परेशान हैं. यह बर्फबारी गुठलीदार फ्ल्वारिंग के लिए नुक्सानदायक है.

शिकारी देवी में डेढ़ फुट बर्फ

जानकारी के अनुसार शिकारी देवी में डेढ़ फुट बर्फ,तुंगासीगढ़ व कमरुनाग में सवा फुट से लेकर आठ इंच तक बर्फ़बारी हुई है. वहीँ शैटाधार,मगरूगला,छतरी,भुलाह,गाड़ा गुशैणी,कलहणी,सपेहनीधार,देवीदहड़ और झौर आदि पहाड़ी इलाकों में जमकर बर्फबारी हुई है.

सराज में सड़कें हुईंअवरुद्ध

सराज घाटी में बार-बार बर्फबारी के कारण मुश्किलें बढ़ रही हैं. वहीँ सराज घाटी में 5 सड़कें अवरुद्ध हैं तथा लोग भी ठण्ड के कारण ठिठुरते नजर आए.

बागवान और किसान परेशान

उधर बेमौसमी बर्फबारी से बागवान और किसान परेशान हैं. यह बर्फबारी गुठलीदार फ्ल्वारिंग के लिए नुक्सानदायक है वहीँ बारिश गेहूं की फसल के लिए भी घातक है. एसडीएम थुनाग ने पर्यटकों से अपील की है कि कोई भी शिकारी देवी और अन्य जोतों की ओर न जाएँ यहाँ पहले से ही बर्फ की मोटी परत जमा है.लोग बर्फबारी के चलते सावधानी बरतें.

Leave a Reply