ऊहल तृतीय चरण परियोजना के पॉवर हाउस में बड़ा हादसा ! करोड़ों का नुक्सान

जोगिन्दरनगर :उपमंडल के तहत ऊहल तृतीय पन विद्युत परियोजना के पॉवर हाउस में रात एक बजे बड़ा हादसा हुआ. आठ मेगावाट बिजली उत्पादन शुरू कर हमीरपुर के मट्टन सिद्ध ग्रिड को सप्लाई भेजी जा रही थी. करीब एक घंटे बाद साढ़े 12 बजे इंजीनियरों ने लोड 8 से बढ़ा के 16 मेगावाट करने के लिए प्रेशर बढ़ाया,पावर हाउस से 150 मीटर की दूरी पर पैनस्टाक में ब्लास्ट हो गया।

30 लोग थे अंदर

उस वक्त करीब 30 लोग अंदर थे जिसमें जब पानी पॉवर हाउस की दीवार को तोड़ अंदर घुस गया। 15 इंजीनियर व कर्मचारियों ने अपनी जान भाग कर बचाई। 15 लोग अंदर फंस गए थे ।पावर हाउस पूरी तरह पानी व मिट्टी से भर गया। एक इंजीनियर ने हिम्मत दिखा पेन स्टॉक का वाल्ब बंद किया। इसके बाद करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद अंदर फंसे कर्मचारियों को बाहर निकाल उनकी जान बचाई गई।

सुबह 3 बजे तक चला बचाव कार्य

रात 3 बजे तक बचाव कार्य चलता रहा। जलभराव व मिट्टी भरने से पॉवर हाउस में करोड़ों रुपये की मशीनरी खराब हो गई है. मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर में मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। इस हादसे से प्रोजेक्ट के इंजीनियर सदमे में है।

काफी नुक्सान हुआ

वह लंबे इंतजार के बाद शुरू हुए बिजली उत्पादन की खुशी एक घंटे से अधिक समय तक नही मना पाए। इस प्रोजेक्ट की लागत 1500-1600 करोड़ बताई जा रही है। जिस को काफी नुकसान पहुंचा है

Comments

comments

Leave a Reply