हिमाचल सरकार का मनमाना फैसला, स्कूलों में वार्षिक समारोहों पर लगाई रोक

184

जोगिन्दरनगर: ‘पंजाब केसरी’ के हवाले से खबर है कि प्रदेश सरकार ने सरकारी स्कूलों में वार्षिक समारोहों के आयोजन पर रोक लगा दी है। यह रोक मंत्रिमंडल के गठन तक प्रभावी रहेगी।

हालांकि इस संदर्भ में अब तक कोई लिखित आदेश जारी नहीं किए गए हैं लेकिन उच्चाधिकारियों के हवाले से ऐसे मौखिक आदेश स्कूल प्रशासन को जारी हुए हैं। इन आदेशों में स्कूलों में अभी वार्षिक समारोहों व पुरस्कार वितरण समारोह नहीं करवाए जा सकेंगे।

बताया जा रहा है कि मंत्रिमंडल के गठन के बाद ही ऐसे समारोह का आयोजन हो सकेगा, जिसमें मंत्री से लेकर विधायक शामिल हो सकेंगे। ऐसे में इस फ़ैसले को सरकार का स्कूल जैसी संस्थाओं में सरकार की राजनीतिक उद्देश्यपूर्ति और वेवजह दख़लअंदाजी के तौर पर देखा जा रहा है।

सरकार से फ़ैसले से स्कूल प्रशासन परेशान

उधर, सरकार के फैसले से स्कूल प्रशासन परेशान है। स्कूलों ने वार्षिक समारोहों की सभी तैयारियां कर ली हैं। मेधावियों के लिए मोमैंटो व प्रमाण पत्र तैयार करवा लिए हैं। इसके साथ ही स्कूलों में अन्य तैयारियां भी कर ली गई हैं लेकिन सरकार के आदेशों से स्कूलों की तैयारियों पर पानी फिर गया है। इससे विद्यार्थी भी नाखुश हैं।

विद्यार्थियों को स्कूल के वार्षिक समारोह का इंतजार रहता है। खासकर वे विद्यार्थी जिन्हें या तो खेलकूद प्रतियोगिता में पुरस्कार मिलना है या शैक्षणिक गतिविधियों में सम्मान मिलना है।

विंटर वैकेशन स्कूलों में अगले साल ही हो पाएंगे वार्षिक समारोह

सरकार के इस फैसले से अब विद्यार्थियों को इस पुरस्कार के लिए इंतजार करना पड़ेगा। विंटर वैकेशन स्कूलों के तो अगले साल ही अब ये वाॢषक समारोह हो पाएंगे। इन स्कूलों में 31 दिसम्बर से छुट्टियां हो रही हैं, ऐसे में जिन स्कूलों में अभी तक ये समारोह नहीं किए गए हैं, वे अब अगले साल ही वार्षिक समारोह कर पाएंगे।

Leave a Reply