विधानसभा में 13141.07 करोड़ का अनुपूरक बजट ध्वनिमत से पारित

82

हिमाचल विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए राज्य का 13141.07 करोड़ रुपए के अनुपूरक बजट को ध्वनिमत से पारित कर दिया गया। मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू की तरफ से सदन में गत मंगलवार को अनुपूरक बजट पेश किया गया था, जिसे बुधवार को पारित कर दिया। अनुपूरक बजट में 11707.68 करोड़ रुपए राज्य प्रायोजित स्कीमों और 1433.39 करोड़ रुपए केंद्र प्रायोजित स्कीमों के लिए रखे गए हैं।

हिमाचल प्रदेश विधानसभा में बुधवार को पूर्व भाजपा सरकार के समय में खोले गए संस्थानों को डिनोटिफाई करने के मुद्दे पर जमकर हंगामा हुआ। वहीं वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए राज्य का 13141.07 करोड़ रुपए के अनुपूरक बजट को ध्वनिमत से पारित कर दिया गया।

नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने नियम-67 के तहत हुई चर्चा में भाग लेते हुए कहा कि मौजूदा सरकार ने संस्थानों को बंद करने की गलत परंपरा शुरू की है। उन्होंने कहा कि इस तरह की परंपरा सरकार को महंगी पड़ेगी।

उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार के 11 दिसम्बर 2022 के बाद खोले गए संस्थानों पर आने वाले भाजपा सरकार पुनर्विचार करेगी। उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार ने अपनी मर्जी से संस्थान नहीं खोले, लोगों की मांग पर खोले हैं।

विधानसभा के बजट सत्र के दूसरे दिन कांग्रेस विधायक संजय रतन ने चर्चा में भाग लेते हुए कहा कि केवल विरोध के लिए विरोध नहीं होना चाहिए, प्रदेश हित को भी देखा जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार ने राजनीतिक लाभ लेने के लिए चुनाव से पहले सैंकड़ों संस्थान खोल दिए, जिनके चलाने के लिए 5 हजार करोड़ चाहिए।

 

Leave a Reply