प्रदेश में बनेंगे नौ नए एक्सीलेंस कालेज,दसवीं के 100 टापर्स को पढ़ाई के लिए एक -एक लाख

शिमला : मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने शुक्रवार को अपने कार्यकाल का तीसरा बजट किया। सीएम ने 11 बजे अपना बजट भाषण पढऩा शुरू किया। तेरहवीं विधानसभा के इस सत्र में बतौर वित्त मंत्री मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कई घोषणाएं की। सीएम ने कहा कि हिमाचल में 20 करोड़ रुपये का कृषि कोष बनाया जाएगा।

हींग और केसर उत्पादन पर होगा फोकस

वहीं, हींग और केसर उत्पादन पर भी फोकस किया जाएगा। 2020-21 में एक लाख किसानों को प्राकृतिक खेती के लिए प्रेरित किया जाएगा। पशु चिकित्सा सहायकों के 120 पद भरे जाएंगे। उन्होने दो रुपये दुग्ध मूल्य बढ़ाने की घोषणा भी की। प्रदेश मेें 100 नई ट्राउट इकाइयों का निर्माण किया जाएगा। जो पंचायत जो तंबाकू सेवन मुक्त हो जाएगी, उसे पांच लाख अनुदान दिया जाएगा।

शिक्षा के क्षेत्र में हुई धमाकेदार घोषणाएं

बजट में शिक्षा के क्षेत्र में धमाकेदार घोषणाएं हुई हैं। इसके तहत दसवीं के बाद 100 टापर्स को पढ़ाई के लिए एक एक लाख रुपए दिए जाएंगे। आईटी शिक्षकों का मानदेय 10 फीसदी बढ़ गया है। प्रदेश में  नौ महाविद्यालयों को उत्कृष्ट महाविद्याल बनाने की घोषणा हुई है। गणित के लिए 50 स्कूलों में प्रयोगशालाएं बनाने का लक्ष्य तय हुआ है। जलवाहक छह साल की बजाय अब पांच साल में नियमित होंगे।

मिडडे मील वर्करों का मानदेय 300 रुपए

मिडडे मील वर्करों का मानदेय 300 रुपए बढ़ाने का ऐलान हुआ है। क्लस्टर विवि मंडी में आसपास के कॉलेजों को शामिल किया जाएगा। आशा वर्कर का मानदेय 500 रुपये बढ़ गया है। राजस्व विभाग के अंशकालिक कर्मचारियों का मानदेय 300 रुपये मासिक और नंबरदारों का मासिक मानदेय 500 रुपये बढ़ाने की घोषणा हुई है।

Comments

comments

Leave a Reply