पूरे देश में कहलूरी बोली को मिली नई पहचान

62

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बीते बुधवार को जनसभा में बिलासपुर की कहलूरी बोली में अपने भाषण की शुरूआत कर पूरे देश भर में यहां की संस्कृति एवं भाषा को एक नई पहचान दिलाई है। साथ ही राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के गृह जिला का मान बढ़ाया है। इसके लिए वह पीएम के सदैव धन्यवादी रहेंगे।

यह कार्यक्रम ऐतिहासिक रहा और डेढ़ लाख के करीब जुड़ी भीड़ ने दिखा दिया कि वोटर डबल इंजन की सरकार के साथ है। यह बात गुरुवार को यहां परिधि गृह में आयोजित प्रेस कान्फ्रेंस में सदर हलके के विधायक सुभाष ठाकुर ने कही।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने हर वर्ग को छूने की कोशिश की तो वहीं पहाड़ की पीड़ा को बखूबी समझते हुए बड़े प्रोजेक्टों की सौगात देकर मरहम लगाया है।

साथ उन्होंने कहा भी कि वह यहां वर्षों तक संगठन के लिए काम कर चुके हैं इसलिए उन्हें यहां के बारे में सब पता है। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद पीएम का यह सबसे बड़ा कार्यक्रम रहा और यह कार्यक्रम सफल हुआ।

पहली बार कोई पीएम बिलासपुर को कुछ देने आए। सुभाष ठाकुर ने कहा कि प्रदेश का विकास भाजपा सरकार के समय ही हुआ चाहे वह शांता हो या धूमल की सरकार या फिर वर्तमान की जयराम सरकार।

एम्स जैसा सबसे बड़ा स्वास्थ्य संस्थान बिलासपुर को मिला है जिससे पूरे देश भर में यह जिला एक अलग पहचान में आ गया है। उन्होंने कहा कि बिलासपुर जिला खासकर सदर में अभूतपूर्व विकास हुआ है।

कई विकासात्मक परियोजनाओं का उद्घाटन जल्द ही मुख्यमंत्री के कर कमलों से करवाया जाएगा जिसको लेकर तैयारी चल रही है। इस अवसर पर जिला महामंत्री आशीष ढिल्लों, बृजलाल ठाकुर, मदनराणा, कृष्णलाल उपाध्याय और हर्ष मेहता व विनोद ठाकुर आदि मौजूद रहे।

महारैली में सदर के हर घर से कोई न कोई पहुंचा था। शहर में भी शायद ही ऐसा कोई घर हो जहां से कोई नहीं आया। जनता की उमड़ी भीड़ दर्शाती है कि बड़े प्रोजेक्टों के आने से लोगों में खुशी है इसलिए वह इतनी बड़ी तादाद में जनसभा में पहुंचे और मोदी, नड्डा, जयराम व अनुराग ठाकुर के पोस्टर हाथ में उठाए लहलरा रहे थे।

Leave a Reply