शिवरात्रि में दिखेगी हिमाचल की स्वर्णिम यात्रा

मंडी : 22 फरवरी से शुरू हो रहे अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव में इस बार प्रदेश की विकास गाथा का गवाह बनेगी। पहली बार इस तरह के किसी आयोजन में हिमाचल प्रदेश के विकास की कहानी दिखाई जाएगी, जिसमें नौ सेक्टर में हुई अब तक की प्रगति को शिवरात्रि महोत्सव की झांकियों, एक भव्य प्रदर्शनी और नृत्य नाटिकाओं के जरिए दिखाया जाएगा। साल 2020 हिमाचल के पूर्ण राज्यत्व का 50वां साल है। इसलिए 22 से 28 फरवरी तक हो रहे अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव की थीम हिमाचल प्रदेश के पांच दशक की स्वर्णिम यात्रा पर ली गई।

उपायुक्त ने दी जानकारी

सोमवार को पत्रकारों को संबोधित करते हुए उपायुक्त मंडी ऋग्देव ठाकुर ने कहा कि महोत्सव के करीब सभी कार्यक्रमों में पांच दशकों की इस स्वर्णिम यात्रा में हिमाचल के सामान्य से सर्वमान्य बनने व समावेशी व समग्र विकास की उम्दा मिसाल के रूप में उभरने के सफर को प्रदर्शित करने पर जोर दिया जाएगा। पड्डल में पांच दशक की स्वर्णिम यात्रा को दर्शाती विशेष प्रदर्शनी और जलेब में इस पर केंद्रित झांकियों के अलावा सांस्कृतिक संध्याओं में भी इस थीम पर आधारित विशेष कार्यक्रम होंगे। विशेष कर 25 फ रवरी की सांस्कृतिक संध्या में हिमाचली संस्कृति को समर्पित नृत्य नाटिका थिरकन विशेष आकर्षण होगा। उपायुक्त ने कहा कि मंडी का अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव एक ऐसा आयोजन है, जो न केवल मंडी बल्कि हिमाचल की संस्कृति की वैश्विक पहचान का परिचायक है। इसे सबकी सहभागिता से शानदार तरीके से मनाने के इंतजाम किए गए हैं।

सीएम करेंगे शुभारम्भ

महोत्सव का शुभारंभ मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर करेंगे। वे 22 फरवरी को प्रथम जलेब की अगवानी करेंगे। मध्य जलेब 25 फ रवरी को निकाली जाएगी। तीसरी और अंतिम जलेब में 28 फ रवरी को राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय शामिल होंगे। उपायुक्त ने बताया कि महोत्सव के दौरान पड्डल में सरस मेला भी लगेगा। इसमें पश्चिम बंगाल, तेलंगाना, गोआ, मध्य प्रदेश, हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, केरल और झारखंड सहित देश के अन्य राज्यों के स्वयं सहायता समूह अपने उत्पादों के स्टॉल लगाएंगे। इस दौरान मंडी अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव समिति की स्वच्छता उप समिति की अध्यक्ष सुमन ठाकुर, सांस्कृतिक उपसमिति के संयोजक एवं अतिरिक्त उपायुक्त आशुतोष गर्ग, देवता उप समिति के संयोजक एवं अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी श्रवण मांटा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पुनीत रघु, सहायक आयुक्त संजय कुमार और सूचना जनसंपर्क विभाग की उपनिदेशक मंजुला कुमारी सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

स्रोत : दिव्य हिमाचल 

Comments

comments

Leave a Reply