सस्ती हवाई सेवा ‘उड़ान’ शुरू, जानिए क्या है योजना और कितना है किराया!

अब आप टैक्सी के किराये से भी कम किराये पर शिमला से दिल्ली पहुँच सकेंगे और वो भी एक घंटे में! वीरवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शिमला के जुब्बड़हट्टी एयरपोर्ट से देश में सस्ती हवाई सेवाओं की योजना ‘उड़ान’ का शुभारंभ किया। इसके साथ ही देश के 50 अपग्रेड एयरपोर्टों से सस्ती हवाई उड़ानें शुरू हो गईं।

पीएम ने एयर इंडिया की सहयोगी कंपनी एलायंस एयर की शिमला-दिल्‍ली फ्लाइट को हरी झंडी दिखाई। इसके साथ  प्रधानमंत्री ने वीडियो कोफ्रेंसिंग के जरिये हैदराबाद-नांदेड़ और हैदराबाद-कड़प्पा के बीच उड़ानों का भी शुभारम्भ किया।

क्या है ‘उड़ान’ योजना?

उड़ान – उड़े देश का आम नागरिक (UDAN – Ude Desh ka Aam Naagrik) अपने आप में पहली स्कीम है जिसमें  क्षेत्रीय संपर्क को बढ़ावा देने वाली स्कीम माना जा रहा है. यह योजना 15 जून 2016 में शुरू की गयी थी। राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन नीति (एनसीएपी) की इस प्रमुख योजना के तहत जुड़ने वाली एयरलाइन्स सस्ती हवाई टिकटें उपलब्ध करवाएंगी जिसके तहत भारत के आम नागरिक कम से कम 2500 रुपये में आधे घंटे से एक घंटे का हवाई सफर कर सकेंगे।

इस योजना में 500 किलोमीटर दूरी तक फिक्स्ड विंग वाले एयरक्राफ्ट में 30 मिनट्स का हवाई सफ़र और हेलीकाप्टर में 1 घंटे के हवाई सफ़र का न्यूनतम 2,500 रुपया किराया रखा गया है।

सरकार की इस योजना का उद्देश्य क्षेत्रीय संपर्क को बढ़ावा देना है। इस योजना में सरकार का उद्देश्य 24 प्रस्तावित योजनाओं के जरिये ऐसे 70 हवाई अड्डों को जोड़ने का है जहां पर कम फ्लाइट्स उपलब्ध हैं। इनमें से 24 एयरपोर्ट पश्चिम, 17 एयरपोर्ट उत्तर, 11 दक्षिण, 12 पूर्व और 6 उत्तर-पूर्व भारत के विभिन्न स्थानों में हैं.

इस योजना के तहत लाये जाने वाले एयरक्राफ्टस में 18 से 78 सीटें होंगी. लंबे हवाई मार्गों और उड़ान की अवधि के अनुसार किराए में बदलाव हो सकता है। एक व्यक्ति एक फ्लाइट में करीब 6 से 40 सीटें बुक करवा सकता है। एयरलाइंस केवल 50 प्रतिशत टिकट सस्ते दामों पर बेच सकेंगे। बाकि टिकट बाजार मूल्य पर ही बेचे जाएंगे।

इस योजना के अंतर्गत, पांच कंपनियां 128 रूटों पर उड़ान सेवाएं संचालित करेगी जो पूरे देश में 70 हवाईअड्डों से जुड़ेंगी। ऑपरेटरों में स्पाइसजेट, एयर ओडिशा, एयर इंडिया की सहायक कंपनी एयरलाइन सर्विसेज, एयर डेक्कन, और टर्बो मेघा शामिल हैं।

Comments

comments

Leave a Reply