गुड़िया रेप मर्डर: पुलिसकर्मी होंगे सस्पेंड, ऐसे आएगा सच सामने

कोटखाई के गुड़िया प्रकरण में लॉकअप में आरोपी सूरज की हत्या के मामले में गिरफ्तार आईजी जहूर एच जैदी समेत आठ पुलिस कर्मियों के खिलाफ वीरवार को निलंबन की कार्यवाही होगी। सीबीआई ने मंगलवार को इन पुलिस कर्मियों को गिरफ्तार किया था।

अमर उजाला में छपी रिपोर्ट के अनुसार,  पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को गिरफ्तार हुए चौबीस घंटे बीत चुके हैं। इसलिए आपराधिक मामलों में गिरफ्तार कर्मचारियों के खिलाफ नियमों के तहत सस्पेंड करने के आदेश जारी किए जाएंगे।

लाई डिटेक्टर टेस्ट करवा सकती है सीबीआई

हिमाचल प्रदेश पुलिस के गिरफ्तार अधिकारियों का लाई डिटेक्टर टेस्ट या पोलीग्राफी टेस्ट करवाया जा सकता है। सीबीआई इस विकल्प पर गंभीरता से विचार कर रही है।

सूत्रों ने बताया कि यदि पोलीग्राफी टेस्ट से बात नहीं बनी तो ब्रेन मैपिंग टेस्ट भी करवाया जा सकता है। हालांकि अदालत टेस्ट के नतीजे को सबूत नहीं मानती, लेकिन इससे छिपे सच को जानने में मदद मिल सकती है

सच छिपाने की कोशिश कर रहे हैं अफसर

सूत्रों का यह भी कहना है कि गिरफ्तार पुलिस अधिकारी इस मामले का बड़ा सच लगातार छिपाने की कोशिश कर रहे हैं। जांच की दिशा भी दूसरी तरफ मोड़ने की कोशिश की जा रही है।

बताया गया है कि सीबीआई के सवालों का गिरफ्तार पुलिसकर्मियों ने तर्कसंगत जवाब नहीं दिया है। गिरफ्तार पुलिसकर्मी 4 सितंबर तक सीबीआई की हिरासत में हैं। जरूरत पड़ी तो एजेंसी इनकी रिमांड अवधि बढ़ाने की अदालत से गुजारिश करेगी।

Comments

comments

Leave a Reply