किन्नौर में चट्टानों ने रौंदी टैम्पो ट्रैवलर, नौ पर्यटकों की दर्दनाक मौत, तीन गंभीर

बटसेरी में भयानक हादसा, बास्पा पर करोड़ों का पुल भी टूटकर नदी में गिरा

मोहिंद्र नेगी — रिकांगपिओ

किन्नौर जिला के बटसेरी में ऊंची पहाडि़यों से रुक-रुककर गिर रहीं चट्टानें रविवार को लहू की प्यासी बन गईं और दोपहर करीब एक बजे हुए भयंकर भू-स्खलन ने टैंपो ट्रैवलर में सवार नौ पर्यटकों की जान ले ली, जबकि तीन गंभीर रूप से घायल हुए हैं।

चट्टानों की चपेट में आने से बटसेरी गांव को सड़क मार्ग से जोड़ने को बास्पा नदी पर करोड़ों की लागत से बना लोहे का पुल भी टूटकर नदी में गिर गया। पुल के पास के घरों में खड़े वाहन भी चट्टानें गिरने से क्षतिग्रस्त हुए हैं।

बास्पा नदी के किनारे बना स्नानागार और उसमें लगा सोलर हीटिंग सिस्टम भी इस हादसे में तबाह हो गया।

जानकारी के अनुसार दिल्ली, चंडीगढ़ और राजस्थान इत्यादि के पर्यटकों से भरी टैंपो ट्रैवलर (एचआर 55 सी 9003) छितकुल से सांगला की ओर जा रही थी कि बटसेरी में तोप के गोलों की तरह बरसती चट्टानों की चपेट में आ गई। वाहन में 12 लोग सवार थे, जिनमें से नौ पर्यटकों की मौत घटनास्थल पर हो गई, जबकि दो घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सांगला ले जाया गया। इस दौरान एक स्थानीय व्यक्ति भी घायल बताया जा रहा है।

टैंपो ट्रैवलर चट्टानों में ऐसी पिसी कि मानो कोई बच्चे का खिलौना हो। पर्यटकों के अंग कटकर इधर-उधर गिरे हुए थे। कुछ चेहरे इतने पिस गए थे कि पहचाननार मुश्किल हो रहा था। कुछ के हाथ, कुछ की टांगें, कुछ का धड़ अलग था। दृश्य इतना भयावह था कि देखा नहीं जा रहा था।

हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस, आईटीबीपी, होमगार्ड, स्थानीय युवकों सहित प्रशासन की टीमें मौके पर पहुंच गईं और राहत व बचाव कार्य चलाया। रुक-रुककर हो रहे भू-स्खलन को देखते हुए घटना वाले स्थान पर लोगों की आवाजाही रोक दी गई है। और पुल के दोनों ओर पुलिस तैनात कर दी गई है।

दुर्घटना का वीडियों भी सामने आया है, जिसमें दिख रहा है कि भू-स्खलन के समय प्रत्यक्षदर्शियों ने शोर मचाकर पर्यटकों के वाहन को रोकने की कोशिश की, लेकिन तब तक बाहन पत्थरों के चपेट में आ गया था।

घटनास्थल पर चीखो-पुकार व अफरातफरी का माहौल था। इस भू-स्खलन के बाद अवरुद्ध मार्ग के दोनों और पर्यटकों सहित स्थानीय लोगों के कई वाहन फंसे पड़े हैं।

घटना की जानकारी मिलते ही किन्नौर के विधायक जगत सिंह नेगी भी घटनास्थल पर पहुंचे। प्रशासन की तरफ से डीसी, एसपी सहित कई अधिकारी भी घटनास्थल पर पहुंचे और राहत व बचाव कार्यों में जुटे रहे।

उधर, डीसी किन्नौर आबिद हुसैन सादिक ने बताया कि प्रशासन द्वारा सभी मृतकों व घायल पर्यटकों के परिवारों से संपर्क किया जा रहा है। जैसे ही उनसे संपर्क होता है, सभी शव उन्हें सौंप दिए जाएंग। घायल पर्यटकों व एक स्थानीय व्यक्ति का सांगला पीएचसी में प्राथमिक उपचार चल रहा है।

हादसे में शिकार मृतक

  1. प्रतीक्षा पाटिल,नागपुर (महाराष्ट्र)
  2. दीपा शर्मा, जयपुर (राजस्थान)
  3. अमोघ बापट कोरबा (छत्तीसगढ़)
  4. चालक उमराब सिंह, वेस्ट दिल्ली
  5. कुमार उल्हास वेदपाठक
  6. अनुराग, सीकर (राजस्थान)
  7. माया बियानी, सीकर (राजस्थान)
  8. रिचा बियानी, सीकर (राजस्थान)
  9. सतीश कातकबर,छत्तीसगढ़

घायल व्यक्ति

  1. शिरिल ओबरॉय, वेस्ट दिल्ली
  2. नवीन भारद्वाज, मोहाली
  3. रंजीत सिंह सांगला, किन्नौर

हादसे पर मोदी, नड्डा, मुख्यमंत्री ने जताया दुख मृतकों के परिजनों को दो लाख मुआवजा

शिमला। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किन्नौर के बटसेरी में हुए हादसे पर गहरा दुख जताया है और मृतकों के परिवारजनों को दो-दो लाख रुपए का मुआवजा घोषित किया है। वहीं घायलों को केंद्र 50-50 हजार रुपए की मुआवजा राशि देगा। वहीं, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी हादसे पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने प्रशासन को तुरंत राहत और बचाव कार्य सुनिश्चित करने तथा प्रभावितों को फौरी राहत प्रदान करने के निर्देश दिए। उन्होंने ईश्वर से दिवंगत आत्माओं की शान्ति और घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की प्रार्थना की। राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर व भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी इस दुर्घटना पर गहरा शोक जताते हुए पीडि़त परिवाजनों के प्रति संवेदना जताई है।

Comments

comments

Leave a Reply