हिमाचल के वैक्सीनेशन मॉडल की देश भर में धूम

हिमाचल प्रदेश के वैक्सीनेशन मॉडल की पूरे देश में धूम है। हिमाचल वैक्सीनेशन की पहली डोज में देश भर में अव्वल रहा है जिसके बाद राज्य को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शाबाशी दी है। पीएम ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को न केवल फोन करके शाबाशी दी है बल्कि उनसे कहा है कि वह भी हिमाचल के उन स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के साथ वर्चुअली जुड़ेंगे, जिन्होंने इस टारगेट को अचीव किया है।

पीएम की इच्छा है कि वह हिमाचल के स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं व यहां की मशीनरी से ये जानें कि उन्होंने किस तरह इस सफर को पूरा करके देश भर में पहला स्थान अव्वल लिया। उनसे पीएम खुद टिप्स लेना चाहते हैं, ताकि हिमाचल के मॉडल को दूसरे राज्यों को भी बताएं। दूसरे राज्यों के साथ इस मॉडल को सांझा करें, जिससे वह राज्य भी प्रेरित हों और वहां भी तेजी के साथ वैक्सीनेशन का दौर चल सके।

सूत्रों के अनुसार मुख्यमंत्री के साथ फोन पर बात करके पीएम ने बधाई दी है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने भी हिमाचल के स्वास्थ्य विभाग से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। स्वास्थ्य महकमे से पूछा गया है कि उसने वैक्सीनेशन ड्राइव को किस तरह से चलाया। इस अभियान के लिए क्या-क्या किया गया, जिससे हिमाचल दूसरे राज्यों से पहले नंबर पर आया है।

यहां दूसरे दौर की डोज को भी अभियान चलाया जा रहा है। विस्तृत रिपोर्ट के बाद दूसरे राज्यों के लिए भी आवश्यक निर्देश केंद्र सरकार की ओर से जारी किए जाएंगे। हिमाचल इस समय सभी राज्यों के लिए मॉडल बनकर उभरा है। पहली डोज में 100 फीसदी टारगेट को अचीव किया गया है, जबकि दूसरे स्थान पर 73 फीसदी आधार पर उत्तराखंड राज्य है। (एचडीएम)

देश में 18 साल से अधिक आयु की कुल आबादी 94 करोड़ एक लाख 87 हजार मौजूद है। अभी तक 45 करोड़ 18 लाख 4 हजार 528 को ही वैक्सीन की पहली डोज लग पाई है। इसकी कुल प्रतिशतता 48.1 फीसदी है। पंजाब में अभी 40 फीसदी लोगों को पहली डोज लग पाई है। यहां पर 22 करोड़ 7 लाख 37 हजार की आबादी को मिक्स लगनी है, लेकिन यहां पर 9 करोड़ 29 लाख 1 हजार 146 को पहली डोज लग पाई है। पंजाब देशभर में 19वें पायदान पर है।

वैक्सीनेशन अभियान में हिमाचल प्रदेश के बाद उत्तराखंड दूसरे पायदान पर है। इस राज्य में 73 फीसदी आबादी को वैक्सीन लग चुकी है। कुल 80 लाख 60 हजार का लक्ष्य है, 58 लाख 84 हजार वैक्सीनेट हो चुके है। इसी तरह केरला की 71 फ़ीसदी आबादी वैक्सीनेट हो चुकी है गुजरात में 66 फीसदी लोगों को वैक्सीन लग चुकी है।

आसाम में 62 फीसदी लोग वैक्सीनेट हो चुके हैं। जम्मू कश्मीर में 61.5 फीसदी, मध्यप्रदेश में 61.1 प्रतिशत, देश की राजधानी दिल्ली में 58.6 फीसदी, राजस्थान में 58.5 प्रतिशत, कर्नाटका में 57.9 फीसदी, हरियाणा में 54.2 फीसदी, आसाम में 54.1, ओडिशा में 50 फ़ीसदी, छत्तीसगढ़ में 49.2, आंध्र प्रदेश में 49.1 फीसदी लोगों को वैक्सीन लग चुकी है।

Comments

comments

Leave a Reply