हिमपात से त्रियूंड, बीड़-बिलिंग पूरी तरह बंद

मौसम के करवट बदलने से धौलाधार की पहाडि़यों में हुई बर्फबारी और निचले क्षेत्रों में बारिश से समूची कांगड़ा घाटी प्रचंड शीतलहर की चपेट में आ गई है। मौसम के इस मिजाज से खासकर मकलोडगंज, धर्मकोट, नड्डी, भागसूनाग, खनियारा के खड़ौता, थातरी व बीड़-बिलिंग में भी भारी बर्फबारी हुई है।

मंगलवार को हुई भारी बर्फबारी

क्षेत्र में मंगलवार रात को हुई बर्फबारी निचले रिहायशी इलाकों में पहुंच गई है। इससे सामान्य जन-जीवन पूरी तरह से प्रभावित हो रहा है। बुधवार दोपहर को भी रुक-रुक कर बर्फबारी का दौर जारी रहा है, जिस कारण लोग वाहन नहीं निकाल पाए। वहीं, हल्की धूप के बाद पर्यटकों ने पर्यटक स्थलों मकलोड़गंज, खड़ौता व थातरी में पहुंचकर बर्फबारी का आंनद लिया है।

जनजीवन हुआ प्रभावित

वहीं, धर्मशाला में प्रचंड ठंड पड़ने से एक बार फिर से आम जनजीवन प्रभावित हुआ है। इस दौरान धौलाधार पर्वत शृंखला के दो प्रसिद्ध पर्यटक स्थलों त्रियूंड, खड़ौता के ठठारना व बिलिंग ने एक बार फिर से बर्फ की चादर ओढ़ ली है। इस कारण पहाड़ी वाले क्षेत्रों में जाने को लेकर प्रशासन ने भी पूरी तरह से पांबदी लगा दी है। ऊपरी क्षेत्रों में काफी अधिक बर्फबारी होने के कारण निचले इलाकों में भी पर्यटक काफी आंनद ले रहे हैं। इससे एक बार फिर से कारोबारियों के चेहरों पर रौनकें लौट आई हैं। इससे पहले धर्मशाला सहित ऊपरी क्षेत्रों में काफी बर्फबारी लोहड़ी पर्व पर हुई थी।

Comments

comments

Leave a Reply